Home Tips/Tricks VPN ( Virtual Private Network ) क्या हैं? इसका कैसे इस्तेमाल करें

VPN ( Virtual Private Network ) क्या हैं? इसका कैसे इस्तेमाल करें

199
10
SHARE

अगर आप smartphone का इस्तेमाल करते हैं तो आपको पता जरुर होना चाहिए. तो हम यहाँ पर Virtual Private Network के बारे में जानेंगे कि यह क्या होता हैं ( What is VPN )और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता हैं.

IGTV ( Instagram TV ) क्या हैं? इसका कैसे इस्तेमाल करें

Android Message क्या हैं? Android Message का use कैसे करें

VPN क्या हैं? ( What is VPN )

वीपीएन का मतलब होता है वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क. इसे आमतौर पर network security के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह पब्लिक नेटवर्क जैसे कि इंटरनेट या private network पर एक अतिरिक्त सुरक्षा लेयर जोड़ देता है और आपकी वास्तविक पहचान को छुपा देता है. इससे आपके बारे में जानना या ट्रैक करना मुश्किल हो जाता है. वीपीएन के दौरान इंटरनेट सर्फिंग में आपकी डिवाइस का लोकेशन बदल जाता है. भारत में रह कर भी यह यूके, फ्रांस, जापान, कोरिया आदि देशों में किसी एक के सर्वर से कनेक्ट हो जाता है. आपका IP Address जिसे इंटरनेट की पहचान भी कहते हैं, वह भी बदल जाता है. इससे आपको ट्रैक करना या फिर आपके डिवाइस को हैक करना मुश्किल हो जाता है.

क्यों जरूरी है वीपीएन?

अगर आप किसी क्रिमिनल एक्टिविटीज में शामिल नहीं हैं, तो वीपीएन का इस्तेमाल आपके लिए उपयोगी साबित हो सकता है. खासकर ऐसे समय में जब आप पब्लिक वाई-फाई का इस्तेमाल करते हैं, जहां डाटा चोरी या फिर हैक होने की आशंका सबसे ज्यादा होती है. कई बार ऑफिसेज में इंटरनेट पर कई साइट बैन होते हैं. ऐसे में आप उन कंटेंट को देख नहीं पाते. परंतु जरूरी होने पर आप वीपीएन की मदद से इन साइट्स को अपने कंप्यूटर पर खोल सकते हैं.

VPN का इस्तेमाल कैसे करे

वीपीएन सर्विस का इस्तेमाल करना आसान है. सबसे पहले आपको तय करना पड़ेगा कि किस वीपीएन का इस्तेमाल करने जा रहे हैं.  फिर उस वीपीएन प्रोवाइडर की वेबसाइट पर जाएं, वहां आपको विस्तृत जानकारी मिल जाएगी. आज के समय में ऑनलाइन सैकड़ों की संख्या में नि:शुल्क वीपीएन सर्विस उपलब्ध हैं। ओपरा ब्राउजर में बिल्ट-इन वीपीएन की सुविधा है, जो बिल्कुल फ्री है. इसके आलावा आप smartphone का इस्तेमाल करते हैं तो वहां इसका option उसमे भी दिया होता हैं.

Online VPN sites

Hotspotshield

इस वीपीएन टूल का उपयोग आसान है. यह अलग-अलग वर्चुअल लोकेशन को उपयोग करने की सुविधा देता है। साथ ही, यह वेबसाइट और ऑनलाइन ट्रैकर्स से आपकी आइपी एड्रेस और लोकेशन को छुपा कर रखता है. इसकी मदद से किसी भी प्रॉक्सी वेबसाइट को ओपन कर सकते हैं, वह भी बिना किसी सॉफ्टवेयर इंस्टॉलेशन के। यह सभी प्राइवेट और पब्लिक ब्राउजिंग एक्टिविटीज को एन्क्रिप्ट रखता है.

Hoxx VPN ( hoxx.com ):

यह ऑनलाइन एक्टिविटीज के दौरान अपनी लोकेशन छुपाने के साथ किसी भी ब्लॉक साइट को एक्सेस करने की सुविधा देता है. यह फ्री है और इसके दुनियाभर में 100 के करीब सर्वर हैं. इस्तेमाल के लिए खास कॉन्फिगरेशन को जरूरत नहीं पड़ती है.

BetterNet:

यहां लॉगइन करने की जरूरत नहीं पड़ती है और यह इस्तेमाल करने में भी आसान है. यह ऑनलाइन की दुनिया में आपकी प्राइवेसी को सिक्योर रखता है. इसकी मदद से किसी भी ब्लॉक साइट को आसानी से ओपन कर सकते हैं. यह आपके लोकेशन को ऑटोमैटिकली पहचान कर सबसे करीबी सर्वर से कनेक्ट करने की सुविधा देता है.

Zenmate:

यह भी एक फ्री वीपीएन सर्विस है. यह न सिर्फ सभी तरह के ट्रैकर्स को लॉक कर देता है, बल्कि आपके पब्लिक नेटवर्ट को भी सिक्योर रखता है. इसकी मदद से जियो-ब्लॉकिंग कंटेंट को भी एक्सेस कर पाएंगे. यह सभी ट्रैफिक को एन्क्रिप्ट करने के साथ आइपी एड्रेस को छुपाने का विकल्प देता है, जिससे अपनी पहचान को छुपा कर ऑनलाइन सर्फिंग कर सकते हैं. यहां स्मार्ट लोकेशन फीचर में वेबसाइट के हिसाब से लोकेशन अपने आप बदल जाता है. प्रीमियम सर्विस में अच्छी स्पीड के साथ और अधिक लोकेशन को जोड़ने की सुविधा मिलती है.

DotVPN:

यह क्रोम एक्सटेंशन न सिर्फ सिक्योर कनेक्शन का दावा करता है, बल्कि यह अनलिमिटेड बैंडविथ के साथ आसानी से अलग-अलग लोकेशन के बीच स्विच करने का विकल्प भी देता है. यहां 700 सर्वर और 10 वर्चुअल लोकेशन को एक्सेस कर सकते हैं यानी देश में ही रहते हुए अपनी ऑनलाइन एक्टिविटीज का लोकेशन कनाडा, जापान, स्वीडन, अमेरिका, ब्रिटेन आदि दिखा सकते हैं. यह 4096 बिट की-एन्क्रिप्शन का उपयोग करता है, जो कि बैंकिंग स्टैंडर्ड से करीब दोगुना होता है. इसकी मदद से किसी भी ब्लॉक वेबसाइट को अनलॉक कर सकते हैं और खुद को पब्लिक वाई-फाई पर भी सुरक्षित रख सकते हैं. यह 12 देशों के आइपी एड्रेस उपलब्ध कराता है, जिससे आप अपनी प्राइवेसी को सुरक्षित रख पाएंगे.

TunnelBear:

नि:शुल्क वीपीएन सेवा के लिए टनलबियर एक अच्छा विकल्प हो सकता है. यह प्राइवेसी को सुरक्षित रखने के साथ-साथ ब्लॉक साइट को भी एक्सेस करने की सुविधा देता है. ऑनलाइन ट्रैकिंग के खतरे को कम करते हुए आपकी आइपी एड्रेस को छुपा देता है, इसलिए पब्लिक वाई-फाई पर भी सिक्योर ब्राउजिंग का विकल्प मिलता है. इसमें 20 देशों के प्राइवेट नेटवर्क से कनेक्ट करने की सुविधा है. यह लाइट वेट क्रोम ब्राउजर एक्सटेंशन है. इसके फ्री और पेड वर्जन उपलब्ध हैं.

Read it: Android Phone में screenshot कैसे ले

Windows, Android और iOS में इस्तेमाल कैसे करे

Windows 10 – Settings> Network and Internet 

Mac OS – System Preference > Network 

Android – Settings > More > VPN

iOS- Settings > Genral

10 COMMENTS

  1. Bhai bhot achi site hai aur post bhi ,me bhi WordPress pr esi site banana chatha hu kya aap bata skte ho kitna khrcha aaega , aapne theme buy kari hai ya free me li hai ? Please batao

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here