Home Tips/Tricks eSIM क्या हैं ( What is eSIM ) || इसके क्या फायदे...

eSIM क्या हैं ( What is eSIM ) || इसके क्या फायदे हैं

39
0
SHARE

eSIM क्या हैं? What is eSIM?

(eSIM full form Embedded Subscriber Identity Module)

बढ़ती technology के आज के समय में बहुत कुछ बदल चूका हैं. पहले फ़ोन में पहले एक बड़ी सी चिप आती थी लेकिन अब वह छोटी और छोटी हो गई हैं.

अगर आप सोच रहे होंगे कि SIM क्या होता है तो यह पर मै इस बात को साफ कर देता हूँ. SIM का पूरा नाम Subscriber Identity Module होता हैं. यह एक छोटी चिप होती है जो स्मार्टफोन यूजर की जानकारी को सेव रखती है.

MINI NENO Micro SIM card

आज की बढ़ती technology के अनुसार SIM के तीन प्रकार हैं, जो MINI, Micro और Neno हैं. यह LTE और VoLTE दो तरह की होती हैं.

  • LTE full form ( Long Term Evolution)
  • VoLTE full form (Voice over Long Term Evolution)

अब इनके अलावा अब एक और SIM आ गई हैं जिसे eSIM कहते हैं. eSIM की full form Embedded Subscriber Identity Module (इंबेडेड सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल) हैं.

eSIM के द्वारा अब बिना सिम कार्ड के भी फोन का इस्तेमाल किया जा सकता है. तो आइये जानते हैं कि eSIM क्या है और इसके क्या फायदे हैं? what is eSIM and what are the benefits an eSIM?

eSIM क्या है (what is eSIM)?

फिजिकल सिम से अलग eSim एक छोटा सा, दोबारा प्रोग्राम किया जा सकने वाला रिमूवेबल सिम कार्ड होता है. eSIM को इंबेडेड सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल (Embedded Subscriber Identity Module) कहा जाता है.

साधारण भाषा में eSIM एक ऐसा सिम कार्ड है जो डिवाइस बोर्ड में ही लगाया जा सकता है. यह तकनीक सॉफ्टवेयर के जरिए काम करती है. पहले इस तकनीक का इस्तेमाल केवल स्मार्टवॉच में किया जा रहा था. अब eSIM से यूजर्स को इससे एक ऑपरेटर से दूसरे ऑपरेटर में स्विच करने में भी आसानी होगी.

eSIM के फायदे हैं? (what are the benefits an eSIM?)

More Security:

eSIM स्मार्टफोन में एम्बेड की जाती है. इसे फोन से अलग नहीं किया जा सकता है. इसका सीधा मतलब यह है कि आपका सिम कार्ड कभी खो नहीं सकता है. इसके साथ ही हर मोबाइल में अलग-अलग साइज की सिम लगाई जाती है लेकिन eSIM के साथ इस बात की चिंता की जरुरत नहीं है.

Save Space:

पहले के समय में देखा जाये तो पहले बड़ी सी चिप आती थी जिसे MINI SIM कहते है. इसके बाद उससे छोटी आई यानि MINI SIM से आधी, जिसे micro sim कहते हैं. इसके बाद आई neno sim जो सबसे छोटी थी और अब esim आ गई है. एसा क्यों?

क्योकि, स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां सिम का साइज छोटा कर रही हैं जिससे स्पेस को बढ़ाया जा सके. वहीं, अगर सिम कार्ड स्लॉट को ही फोन से हटा दिया जाए तो कंपनियां इस स्पेस को अन्य उपयोगी कंपोनेंट्स के लिए इस्तेमाल कर पाएंगी. वहीं, जब फोन में सिम कार्ड स्लॉट की जगह खाली होगी तो फोन में नई तकनीक का स्कोप ज्यादा होगा.

Useful for Traveller:

eSIM का सबसे बड़ा फायदा ट्रैवलर्स को होगा. दूसरे देशों में घूमने जाते समय Standerd SIM Card आपके नंबर को एक्सेस करने की अनुमति नहीं देते हैं. ऐसे में आप अपने फोन में रोमिंग eSIM एम्बेड कर सकते हैं. इससे आपको रोमिंग चार्जेज भी नहीं देने होंगे. सबसे अहम बात की eSIM आपको दूसरे देश में घूमने जाते समय आप इसका इस्तेमाल कर पाएंगे.

eSIM फिजिकल सिम कार्ड की तरह नहीं होती. इसी के साथ eSIM को फिजिकल सिम की तरह बदला नहीं जा सकता.

अब आप जान गए होंगे कि eSIM क्या हैं (What is an esim?) और इसके क्या फायदे हैं (what are the benefits an eSIM?). esim को फ़ोन में setup कैसे किया जाता है और ऑपरेटर कैसे बदला जाता है इसके बारे में आने वाले आर्टिकल में जानेंगे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here